डॉक्टरों के लिए बिजनेस लोन बेहतर क्यों है?

डॉक्टरों के लिए बिजनेस लोन इस तरह से डिजाइन किया गया है कि वह उनकी पेशेवर जिंदगी से सामंजस्य बैठा सके. यह एक क्रेडिट ऑप्शन है, जो किफायती तरीके से डॉक्टर की कई जरूरतें पूरी करता है. वह इसका इस्तेमाल अपनी क्लीनिक की जरूरतें पूरी करने के लिए कर सकता है.

डॉक्टर के पास ऑप्शन है कि वह बिजनेस लोन लेने के लिए अपनी कोई संपत्ति बतौर गारंटी रखे या नहीं. अगर वह सुरक्षित बिजनेस लोन लेना चाहता है तो उसे अपनी निजी संपत्ति को बतौर गारंटी रखना पड़ेगा.

अगर वह ऐसा नहीं करना चाहता तो वह असुरक्षित बिजनेस लोन ले सकता है. ज्यादातर बैंक सुरक्षित बिजनेस लोन देते हैं. जबकि असुरक्षित बिजनेस लोन एनबीएफसी और ऑनलाइन कर्जदाता देते हैं.  आइए अब आपको बताते हैं कि क्यों डॉक्टरों के लिए बिजनेस लोन फायदेमंद हैं.

क्यों डॉक्टरों को बिजनेस लोन लेना चाहिए?

खरीद या लीज क्लीनिक: क्लीनिक वो जगह है, जहां आप मरीजों का इलाज करते हैं. इसी जगह सारी बिजनेस एक्टिविटीज होती हैं. लिहाजा ऑफिस स्पेस होना बहुत जरूरी है. आप नए इलाके में नया क्लीनिक भी बना सकते हैं.

या फिर आप बड़ी और बेहतर दुकान भी ले सकते हैं, जहां आप बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराकर ज्यादा मरीजों का इलाज कर सकते हैं.

अनुभवी स्टाफ की हायरिंग: किसी भी बिजनेस को सुचारू रूप से चलाने के लिए अनुभवी स्टाफ की जरूरत पड़ती है. और जब बात मेडिकल बिजनेस की आती है तो ज्ञानी, अनुभवी और कुशल स्टाफ की जरूरत पड़ती है.

जब आपके क्लीनिक का विस्तार हो रहा हो तो आपको ज्यादा स्टाफ हायर करने की जरूरत पड़ती है और आपको उन्हें सैलरी देने के लिए वर्किंग कैपिटल यानी पूंजी की जरूरत पड़ती है. नियम के मुताबिक, जब आप ज्यादा लोग हायर करते हैं तो आपके पास कम से कम एक साल तक उनकी सैलरी देने के लिए फंड होना चाहिए.

आपको स्टाफ को सिर्फ कुछ महीनों के लिए ही हायर करके यह कहकर निकालना नहीं चाहिए कि आपके पास सैलरी देने के लिए पैसे नहीं हैं. लिहाजा यहां डॉक्टर्स बिजनेस लोन काम आता है.

लेटेस्ट मेडिकल मशीनें खरीदें: मशीनरी और उपकरण मेडिकल क्लीनिक चलाने के लिए बेहद जरूरी हैं. आपको मरीजों का इलाज करने के लिए कुछ उपकरणों की जरूरत पड़ती है. बिजनेस लोन के जरिए आप लेटेस्ट उपकरण और मशीनरी खरीद सकते हैं या फिर उन्हें अपग्रेड कर सकते हैं. इसके अलावा आप बिजनेस के विस्तार के लिए नए उपकरण भी ले सकते हैं.

क्लीनिक की वर्किंग कैपिटल बरकरार रखना

बिजनेस की रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वर्किंग कैपिटल को बनाए रखना जरूरी है. रोजाना क्लीनिक चलाने के लिए आपके पास पर्याप्त पूंजी होनी चाहिए. अगर आपके पास पैसे नहीं हैं तो आप बिजनेस लोन ले सकते हैं.

इसके अलावा आपको क्लीनिक में दवाइयों का स्टॉक भी रखना होगा और सप्लायर्स को वक्त पर पैसे भी देने होंगे. लेकिन आप राजस्व तभी कमा पाएंगे जब बाद में मरीज आपके पास आएंगे. इसलिए वर्किंग कैपिटल की जरूरत पड़ेगी, जिसे वर्किंग कैपिटल लोन के जरिए पूरी की जा सकती है.

आइए आपको बताते हैं कि डॉक्टर कैसे बिजनेस लोन ले सकते हैं.

सही कर्जदाता चुनें: सही कर्जदाता को चुनना अनिवार्य है क्योंकि इससे आपको यह संतुष्टि मिलती है कि आपने सही बिजनेस लोन चुना है (जो किफायती है) और कर्जदाता  की भी शानदार सेवाएं हैं.

इसलिए लोन अप्लाई करने से पहले बाजार में विभिन्न कर्जदाताओं की ब्याज दरों के बारे में पता कर लें और सर्वश्रेष्ठ कर्जदाता ही चुनें. इससे यह सुनिश्चित होगा कि लोन के प्रति मासिक किश्त कम रहेगी.

आप डॉक्टर लोन ले सकते हैं या नहीं, ऐसे जानें: कर्जदाता चुनने के बाद यह जानना भी जरूरी है कि आप बिजनेस लोन लेने की योग्यता को पूरा भी कर पाते हैं या नहीं. कर्जदाताओं की मांग रहती है कि आप कम से कम दो साल क्लीनिक चलाएं और आपके अनुभव और एजुकेशन क्वॉलिफिकेशन के आधार पर ही वे आपकी एप्लिकेशन अप्रूव करते हैं.

कर्जदाताओं के योग्यता के पैमाने पर खरा उतरने के बाद एप्लिकेशन अप्रूव होने के चांस बढ़ जाते हैं. इससे समय भी बचता है. लेकिन अगर योग्यता पर खरे नहीं उतरते हैं तो बाद में वेरिफिकेशन प्रोसेस के दौरान आपकी एप्लिकेशन रद्द हो सकती है. वहीं योग्यता पर खरा न उतर पाने के कारण आपको ज्यादा ब्याज दर से लोन चुकाना पड़ सकता है.

योग्यता साबित करने के लिए आपको विभिन्न दस्तावेजों जैसे पैन कार्ड, आईटीआर, बैंक स्टेटमेंट, अड्रेस प्रूफ इत्यादि की जरूरत पड़ती है. वहीं अगर आप सुरक्षित बिजनेस लोन लेते हैं तो आपको संपत्ति के दस्तावेज भी दिखाने होंगे.

एप्लिकेशन प्रोसेस ऑप्शन- ऑफलाइन या ऑनलाइन: यह कर्जदाता पर निर्भर करता है. आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन लोन एप्लिकेशन के विकल्प मिल सकते हैं. जो भी आपको बेहतर लगे आप उसे चुन सकते हैं. ऑनलाइन बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करने से आपको परेशानियां कम होंगी और व्यस्त दिन में वक्त निकालकर आप लोन के लिए अप्लाई भी कर पाएंगे.

आप आसानी से फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं. दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी जमा कराकर वेरिफिकेशन का इंतजार करें और कॉन्ट्रैक्ट साइन करने के बाद राशि आपके अकाउंट में आ जाएगी. इसके अलावा, आप ऑनलाइन एप्लिकेशन प्रोसेस भी चेक कर सकते हैं.

दस्तावेज जमा कर हासिल करें फंड्स: आप जिस भी तरीके से ऑनलाइन लोन एप्लिकेशन  भरें, आपको कुछ जरूरी जानकारियां जैसे नाम, जन्मतिथि, बिजनेस इन्फॉर्मेशन, कितनी राशि चाहिए और अवधि भरनी होगी. ध्यान रहे कि ऑनलाइन लोन एप्लिकेशन भरते समय सभी जानकारियां अपने पास रखें, ताकि समय की बचत हो. जानकारी वेरिफाई होने के बाद फंड सीधे आपके बैंक अकाउंट में डाल दिया जाएगा.

ये सभी बातें ध्यान में रखते हुए बिना परेशानी के डॉक्टरों के लिए बिजनेस लोन अप्लाई कर सकते हैं. तो अगर आप अपना क्लीनिक रेनोवेट कराना चाहते हैं या नया खोलना चाहते हैं तो बिजनेस लोन एक सही कदम है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*