अपने शहर में कैसे ढूंढें बेस्ट होम लोन?

होम लोन आने से घर खरीदना बहुत आसान हो गया है. होम लोन तक आसान पहुंच से कई लोग अब ज्यादा वित्तीय दबाव बिना घर खरीदने के काबिल हो गए हैं. होम लोन के जरिए घर खरीदना काफी आसान है लेकिन सही कर्जदाता ढूंढना हर दिन मुश्किल हो रहा है. मार्केट में होम लोन देने वाले सैकड़ों हैं. इनमें से सर्वश्रेष्ठ चुनना पहली बार घर खरीदने वालों के लिए एक चुनौती है.

होम लोन लेने वाला ग्राहक लंबे समय तक इसे चुकाता है. आमतौर पर होम लोन 10 से 15 साल या उससे ज्यादा समय तक चलता है. जब आप होम लोन लेकर घर खरीदने की योजना बनाते हैं, तो सही ऋणदाता चुनना एक अहम प्राथमिकता बन जाती है.

आज, होम लोन देने वालों की कतार लंबी है. उनमें से अधिकांश होम लोन ग्राहकों को लुभाते हैं. कर्जदाता कई लुभावने ऑफर्स देते रहते हैं, जिससे बाजार में उनकी मौजूदगी मजबूत होती है. कुछ कर्जदाता आपको जीरो प्रोसेसिंग फीस का ऑफर देते हैं, जबकि कई कर्जदाता शुरुआती महीनों की ईएमआई माफ कर देते हैं.

असल में ऐसे अतिरिक्त लुभावने प्रस्ताव ही घर खरीदारों के लिए कर्जदाता के सही चयन को और ज्यादा भ्रामक बनाते हैं. इस तरह के भ्रम को हमेशा के लिए खत्म करने के लिए, हम आपके सामने कुछ पॉइंट्स रख रहे हैं, जो आपको होम लोन के लिए सबसे शानदार कर्जदाता खोजने में मदद करेंगे.

कर्जदाता खोजते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

ब्याज दर

ब्याज दर वो फैक्टर है, जिसका ईएमआई राशि के साथ-साथ कर्ज की लागत पर सबसे ज्यादा प्रभाव होता है. आजकल लगभग सभी होम लोन फ्लोटिंग ब्याज दर पर आते हैं जो MCLR से जुड़ा हुआ है. होम लोन की ब्याज दर हर कर्जदाता की अलग-अलग होती है और आपको लोन की लागत को कम करने के लिए सबसे कम ब्याज दर खोजने की जरूरत है. ऐसा भी हो सकता है कि एक  कर्जदाता दो ग्राहकों को अलग-अलग दर पर लोन दे. इसके लिए आपको विभिन्न कर्जदाताओं की ब्याज दरों की तुलना करनी होगी, ताकि आप सर्वश्रेष्ठ चुन पाएं.

लोन टू वैल्यू रेश्यो

होम लोन में आप अधिकतम राशि ले सकते हैं. यह निर्भर करता है आवेदक की आय और प्रॉपर्टी की वैल्यू पर. ज्यादातर बार, बैंक प्रॉपर्टी की वैल्यू का 80 प्रतिशत होम लोन मुहैया कराते हैं. लेकिन सभी बैंक एक जैसे नहीं होते. कई बैंक आपको ज्यादा लोन राशि देते हैं और कई उसी प्रॉपर्टी की खरीद पर कम अमाउंट. इसलिए कर्जदाता ढूंढते हुए लोन टू वैल्यू रेश्यो को भी  चेक कर लें.

ऑनलाइन उपलब्धता

आजकल ज्यादातर कर्जदाता आपको लोन अकाउंट तक ऑनलाइन एक्सेस देते हैं. यह ऑनलाइन एक्सेस एक जरूरी फीचर है. ऑनलाइन खाते की मदद से किसी भी वक्त आप लोन की कोई भी जानकारी जैसे ब्याज दर, बकाया लोन राशि, बची हुई अवधि, अगली होम लोन ईएमआई इत्यादि हासिल कर सकते हैं. यह एक जरूरी सुविधा है और अगर कर्जदाता यह सुविधा देते हैं तो आपको उसे जरूर चुनना चाहिए.

कोई छिपे शुल्क नहीं

कई मामलों में, कर्जदाता ग्राहकों से कुछ शुल्क छिपाकर उन्हें धोखा देते हैं. लोन देते वक्त फीस और चार्जेज के बारे में ग्राहक को नहीं बताते. बाद में कर्जदाता एक के बाद एक शुल्क ग्राहक पर लगाते हैं. हर एक दिनदहाड़े चोरी जैसा है और ग्राहक को कर्जदाता चुनते वक्त इस बारे में सावधान रहना चाहिए.

आसान प्री-पेमेंट फैसिलिटी और जीरो फोरक्लोजर चार्जेज

होम लोन का कार्यकाल 30 साल तक चल सकता है. वित्तीय दबाव को कम करने के लिए लोन लेते समय कोई शख्स 30 साल का कार्यकाल भी चुन सकता है. लेकिन समय बीतने के साथ-साथ जब आपके पास ज्यादा पैसे हो जाएं तो आप होम लोन का कुछ हिस्सा पहले ही चुकाकर कर्ज से मुक्त हो सकते हैं. ऐसी स्थितियों में, अगर आपको कर्जदाता प्री-पेमेंट का विकल्प नहीं देता तो यह आपकी वित्तीय जिंदगी के लिए बड़ा झटका साबित होगा. इसलिए यह सुनिश्चित कर लें कि लोन अग्रीमेंट में कर्जदाता के पास प्री-पेमेंट और पार्ट पेमेंट का विकल्प हो.

वक्त में देरी

होम लोन अप्लाई करने के कितने समय बाद पैसा मिल जाएगा, ये भी एक अहम कारक है, जिसे आपको लोन लेने से पहले चेक करना होगा. कई कर्जदाता लोन को प्रोसेस करने में काफी वक्त लगाते हैं, जिससे बिल्डर और ग्राहक के बीच कन्फ्यूजन पैदा होता है. कई बैंक एक हफ्ते में ही पैसे भेज देते हैं, जबकि कई इसी काम में महीना लगा देते हैं. इसलिए लोन अप्लाई करने से पहले लोन मंजूरी के समय का पता जरूर लगा लें.

प्रोसेसिंग फीस

हर कर्जदाता की प्रोसेसिंग फीस अलग-अलग होती है. यह लोन अमाउंट  पर आधारित होती है. ज्यादा लोन राशि होगी तो ज्यादा प्रोसेसिंग फीस होगी. फिलहाल एसबीआई होम लोन में प्रोसेसिंग फीस 0.25 प्रतिशत और ICICI बैंक में प्रोसेसिंग फीस लोन की मात्रा के 0.50 प्रतिशत से 1.00 प्रतिशत के बीच है. होम लोन के लिए कर्जदाता चुनने से पहले ही प्रोसेसिंग फीस मालूम कर लें. अतिरिक्त शुल्क और चार्जेज पूरी तरह से उधार लेने की कुल लागत को तय करते हैं इसलिए आपको उन चार्जेज को लेकर सावधान रहना होगा.

घर खरीदना जिंदगी के अहम फैसलों में से एक है. इसलिए ग्राहकों को घर खरीदने की हर प्रक्रिया को देखना चाहिए. इस मामले में इंटरनेट किसी वरदान से कम नहीं है. आप इंटरनेट से होम लोन के बारे में हर मुमकिन जानकारी पा सकते हैं. इसलिए अधिक से अधिक जानकारी हासिल कीजिए ताकि आपको भविष्य में घर खरीदने के फैसले पर पछताना न पड़े.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*