वो कारण जो डालते हैं आपके बिजनेस लोन की शर्तों पर असर

Factors Affecting Terms Of Your Business Loan

खुद का बिजनेस चलाना वास्तव में एक शानदार अनुभव होता है. लेकिन इसके साथ तनाव भी आता है. छोटे कारोबार का मालिक होने के कारण आप हमेशा चीजों को व्यवस्थित करने में जुटे रहेंगे ताकि बिजनेस का संचालन सुचारू रूप से होता रहे. आपका एचआर, सेल्स, ऑपरेशन्स, मार्केटिंग और फाइनेंस जैसे कार्यों में समय भी काफी खर्च होगा. आपको इन सभी अहम मुद्दों के बारे में संबंधित अनुभवी से चर्चा करनी होगी, ताकि आप सर्वश्रेष्ठ हल तलाश सकें.

जब आप अपने कारोबार के विभिन्न कामों को प्रबंधित करने में व्यस्त होते हैं, तो आप सबसे अहम पहलू, यानी खातों और वित्त को नजरअंदाज कर देते हैं.

अपने बिजनेस के फाइनेंस पर पैनी नजर रखना बेहद जरूरी है. वरना आपको महसूस होगा कि आपके पास पैसों की कमी होती जा रही है. यह जरूरी है खासकर जब आप विस्तार की स्थिति में होते हैं.

ऐसी स्थिति में आपके पास जो विकल्प बचता है, वो है किसी वित्तीय संस्थान से असुरक्षित बिजनेस लोन लेना. भारत में ऐसे कई वित्तीय संस्थान हैं, जो सर्वश्रेष्ठ बिजनेस लोन के विकल्प मुहैया कराते हैं. ये सभी ऑफर्स विभिन्न व्यापारों की जरूरतों के मुताबिक बने होते हैं.

प्राइवेट बैंक, पब्लिक बैंक, प्राइवेट कर्जदाता, गोल्ड लोन कंपनियां, एनबीएफसी और ऑनलाइन कर्जदाता कंपनियां हैं, जो भारत में चल रही हैं. आसान एप्लिकेशन और संचालन में पारदर्शिता के कारण एनबीएफसी व ऑनलाइन कर्ज देने वाली कंपनियां भारत में मार्केट लीडर्स के तौर पर उभरी हैं और बिजनेस लोन की जरूरतों की वजह से ग्राहकों की पसंदीदा बनी हुई हैं.

कौन हैं ऑनलाइन कर्ज देने वाली कंपनियां

ऑनलाइन कर्ज देने वाली कंपनियां वे गैर-बैंकिंग वित्तीय कॉरपोरेशन होते हैं, जो सिर्फ ऑनलाइन माध्यम पर ही संचालन करते हैं. जब आप बिजनेस लोन के लिए अप्लाई करते हैं तो आपको उनकी वेबसाइट या मोबाइल एप्लिकेशन पर ही लॉग इन करना पड़ता है. वे कागज रहित प्रक्रिया पर चलते हैं इसलिए आपको अपने केवाईसी और वित्तीय दस्तावेज पीडीएफ के रूप में मुहैया कराने होते हैं ताकि बिजनेस लोन की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सके. अगर आपकी प्रोफाइल उनके पैमानों पर खरी उतरती है तो आपकी एप्लिकेशन अप्रूव हो जाएगी और कुछ ही कामकाजी दिनों में लोन का वितरण भी हो जाएगा.

इनका बिजनेस लोन एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया काफी लचीला होता है. उन्होंने बिजनेस लोन की एलिजिबिलिटी को मापने का अपना ही एक अलग पैमाना बनाया हुआ है. वे पूरी तरह आपकी एलिजिबिलिटी की जांच करते हैं.  इसलिए आपको असुरक्षित बिजनेस लोन मिलने के चांस बढ़ जाते हैं. इसके अलावा वे आपको एक ऑनलाइन एलिजिबिलिटी कैलकुलेटर भी ऑफर करते हैं ताकि आप ऑनलाइन ही अपनी योग्यता चेक कर सकें.

अगर आपके बिजनेस का सालाना टर्नओवर 10 लाख रुपये से ज्यादा है तो आपको तुरंत 7.5 लाख रुपये का असुरक्षित बिजनेस लोन मिल जाएगा. अधिकतम पुनर्भुगतान की अवधि आप 24 महीने चुन सकते हैं. इसके अलावा आपके पास 6 महीने बाद लोन को फोरक्लोज कराने का भी विकल्प है. इसके लिए आप पर किसी तरह का प्री-पेमेंट या फोरक्लोजर चार्ज भी नहीं लगेगा.

आपके बिजनेस लोन के ऑफर्स को क्या कारण प्रभावित करते हैं?

अपनी जरूरत के हिसाब से सर्वश्रेष्ठ बिजनेस लोन ऑफर ढूंढना कोई आसान काम नहीं है. ऐसे कुछ लोन प्रदाता हो सकते हैं, जो आपको ज्यादा राशि दे दें लेकिन वे भुगतान की अवधि कम कर देंगे. हालांकि कई ऐसे अन्य कर्जदाता भी हो सकते हैं, जो आपको कम ब्याज दर दें लेकिन ज्यादा एपीआर (एनुअल पर्सेंटेज रेट) के साथ.

ऐसे उदाहरणों के मद्देनजर, आपके लिए यह जरूरी हो जाता है कि आप अपने बिजनेस के लिए अधिकतम फायदा देने वाले सर्वश्रेष्ठ बिजनेस लोन ऑफर्स की पहचान करें. आइए आपको कुछ कारण बताते हैं, जो आपके बिजनेस लोन को प्रभावित कर सकते हैं:

अपनी जरूरत का अनुमान लगाएं: आपको अपनी अनुमानित जरूरत के बारे में मालूम होना चाहिए. ऐसी राशि के लिए अप्लाई करने का कोई मतलब नहीं, जो आपकी जरूरत से कम हो. वहीं ऐसी राशि के लिए अप्लाई करने का भी फायदा नहीं, जो आपकी जरूरत से ज्यादा हो. किसी पेशेवर की सलाह लें, अगर जरूरत हो तो. लेकिन ध्यान रहे कि अप्लाई उतनी ही राशि के लिए करें, जितने की आपको जरूरत हो.

मार्केट रिसर्च करें: बाजार में ऐसे कई नामी कर्जदाता हैं, जो विभिन्न तरह के बिजनेस लोन के ऑफर्स देते हैं. इंटरनेट का इस्तेमाल कर बिजनेस लोन देने वाले विभिन्न कर्जदाता ढूंढने की कोशिश करें और देखें कि क्या उनका एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया आपकी क्रेडिट प्रोफाइल के मुताबिक है या नहीं. यह यकीनन आपकी एप्लिकेशन अप्रूव होने के चांस को बढ़ा देगा.

उपलब्ध सभी लोन प्रॉडक्ट्स की पहचान करें: बाजार में ऐसे कई उत्पाद हैं, जिनमें से आप चुन सकते हैं. बिजनेस लोन जैसे मशीनरी लोन, टर्म लोन, वर्किंग कैपिटल लोन और असुरक्षित बिजनेस लोन ऐसे ही बिजनेस लोन के प्रकार हैं. आपको ऐसा चुनना चाहिए जो आपकी जरूरतों के मुताबिक हो.

जो जरूरत पूरी करे, उस लोन को चुनें: अब जबकि आप लोन देने वाले कर्जदाताओं को शॉर्टलिस्ट कर चुके हैं तो उनके ऑफर्स को डिटेल में स्टडी करें और अगर कोई सवाल है तो पूछें. इसके बाद गहन जांच कर आपको सर्वश्रेष्ठ बिजनेस लोन का विकल्प अपनी जरूरतों के मुताबिक चुनना चाहिए.

मोलभाव जरूर करें: मोलभाव का स्कोप हमेशा रहता है. ध्यान रहे कि ब्याज दर में जरा सी गिरावट भी आपकी बड़ी बचत करा सकती है. इसलिए अपने कर्जदाता के साथ सबसे कम ब्याज दर के लिए अच्छे से मोलभाव करें. आखिरकार कोशिश करने में कोई नुकसान तो नहीं है.

यह जरूरी है कि आप किसी बिजनेस लोन ऑफर को फाइनल करने से पहले अच्छे से रिसर्च करें. यह एक अहम वित्तीय प्रतिबद्धता है, जिसे हल्के में नहीं लिया जा सकता.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*