बिजनेस लोन की एप्लिकेशन के लिए जरूरी होते हैं ये दस्तावेज

बिजनेस लोन तक बेहतर पहुंच और कर्ज देने वालों के कई विकल्प होने की वजह से छोटे बिजनेस मालिक इन दिनों अच्छी स्थिति में हैं. लेकिन किसी भी अंतिम नतीजे तक पहुंचने और बिजनेस को अलग लेवल पर ले जाने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आप सही दिशा में जा रहे हैं. यह जरूरी है कि जो आपने लक्ष्य रखा है, उसे हासिल किया जाए.

इससे पहले, दिल्ली या किसी अन्य शहर में बिजनेस लोन मिलना बहुत मुश्किल हुआ करता था. लोगों को एक कुर्सी से दूसरी कुर्सी तक दौड़ना पड़ता था. लोन पाने के लिए भारी-भरकम दस्तावेज और महीनों का इंतजार करना पड़ता था. लेकिन आज, ऑनलाइन बिजनेस लोन के लिए बहुत कम दस्तावेज चाहिए और राशि कुछ ही दिनों में आपके अकाउंट में आ जाती है.

बिजनेस लोन आमतौर पर व्यापार को बढ़ाने, मशीनें खरीदने और वर्किंग कैपिटल बढ़ाने के लिए लिया जाता है. किफायती ब्याज दरों पर सर्वश्रेष्ठ बिजनेस लोन लेने के लिए आपको अपने स्तर पर भी रिसर्च करनी होगी.

बिजनेस लोन अमाउंट को तय करने से पहले आपको अपनी वित्तीय क्षमता पर विचार करना होगा. अगर अपनी जरूरत से ज्यादा बिजनेस लोन लेंगे तो आपको ज्यादा ब्याज चुकाना पड़ेगा. हालांकि अगर आप अपनी जरूरत से कम लोन लेते हैं तो आपका लोन लेने का मकसद ही पूरा नहीं हो पाएगा.

आइए आपको बताते हैं कि बिजनेस लोन एप्लिकेशन के लिए किन-किन बातों का ध्यान रखें.

बिजनेस लोन एप्लिकेशन फॉर्म

कर्ज देने वाला हर संस्थान एक दूसरे से अलग होता है. लेकिन ये सभी जानकारी एक ही मांगते हैं. इसलिए हर सवाल का जवाब देने के लिए तैयार रहें. लोन एप्लिकेशन भरने के दौरान सभी जानकारियां अपने हाथ में रखें. आम तौर पर ये सवाल पूछे जाते हैं.-

– आप बिजनेस लोन के लिए क्यों अप्लाई कर रहे हैं.

– आप लोन की राशि को वापस कैसे चुकाएंगे.

– क्या आपने और भी जगह से लोन लिए हुए हैं.

– आपकी निजी जिंदगी से जुड़े हुए सवाल.

इसके अलावा आपको निजी जानकारियां जैसे पोस्टल अड्रेस, पैन और आधार कार्ड देना होगा.

बिजनेस प्लान

कर्ज देने वाले कई लोग अकसर लोन एप्लिकेशन के साथ बिजनेस प्लान भी जमा कराने को कहते हैं. बिजनेस प्लान में फाइनेंशियल स्टेटमेंट, पीएनएल अकाउंट, कैश फ्लो और बैलेंस शीट का सेट होना चाहिए. CIBIL स्कोर भी एक अहम योग्यता है, जिसे हर कर्ज देने वाला संस्थान देखता है. वह इसे भी लोन एप्लिकेशन प्रोसेस के हिस्से के तौर पर ही देखता है. लेकिन CIBIL को आपको भी देखना चाहिए, ताकि उन चीजों को ठीक किया जा सके, जो आपके क्रेडिट स्कोर को कम कर रही हैं. बिना सिक्योरिटी का बिजनेस लोन लेने के लिए बड़ा क्रेडिट स्कोर होना जरूरी है.

बिजनेस लोन डॉक्युमेंट्स:

लोन की एप्लिकेशन के साथ इन दस्तावेजों को जमा कराना बहुत जरूरी है.

आईडी प्रूफ: आपको आधार कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पत्र इत्यादि कार्ड बतौर आईडी प्रूफ जमा कराने होंगे.

रेजिडेंशियल प्रूफ: ये भी एक अहम जरूरत है. आपको रेजिडेंस प्रूफ जैसे इलेक्ट्रिसिटी बिल या रेंट अग्रीमेंट जमा कराना होगा.

उम्र प्रमाण पत्र: कई कर्जदाता उम्र का प्रमाण भी मांगते हैं, जिसके लिए आप पैन कार्ड, पासपोर्ट और वोटर्स कार्ड दे सकते हैं.

वित्तीय दस्तावेज: आपको पिछले 2-3 साल के इनकम टैक्स रिटर्न्स, कम से कम 9 महीने के बैंक स्टेटमेंट, प्रॉफिट एंड लॉस शीट देनी होगी. इसके अलावा आपको पीएनएल अकाउंट को किसी अनुभवी चार्टेड अकाउंटेंट से ऑडिट भी कराना होगा.

अपना क्रेडिट स्कोर ट्रैक करें: बिजनेस लोन भारत में अप्लाई करने से पहले अपना क्रेडिट स्कोर जरूर जांच लें. आपके क्रेडिट स्कोर के बल पर ही कर्जदाता आपकी विश्वसनीयता और लोन चुकाने की क्षमता को चेक करते हैं. ज्यादा क्रेडिट स्कोर होने से आपकी एप्लिकेशन अप्रूव होने के चांस बढ़ जाते हैं.

डॉक्युमेंट्स तैयार रखें: जैसे ही आपको मालूम चल जाए कि बिजनेस लोन के लिए आपको कौन-कौन से दस्तावेज चाहिए, उन सभी को एक जगह जमा करें. आप उनकी फोटोकॉपी करा लें या फिर स्कैन के जरिए ई-कॉपी बना लें.

लोन के लिए अप्लाई करें

जैसे ही आपके सारे दस्तावेज तैयार हो जाएं, आपको बिजनेस लोन के लिए अप्लाई कर देना चाहिए. इसके लिए आपको अपनी जरूरतों के हिसाब से सही कर्जदाता चुनना होगा. आपको यह रिसर्च करनी होगी कि आपके शहर में कौन-कौन से बिजनेस लोन देने वाले संस्थान हैं. दस्तावेजों की जरूरत, एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया और नियम व शर्तों के हिसाब से उन्हें शॉर्टलिस्ट करें. इससे आप विभिन्न कर्जदाताओं के चक्कर में फंसने की बजाय सही कर्जदाता के पास जाएंगे. अगर आपने सारी जरूरतें पूरी की हैं तो आपको आसानी से बिजनेस लोन मिल जाएगा. यह ध्यान रहे कि ऑनलाइन कर्जदाताओं की प्रक्रिया आसान होती है, जिससे आपको बिना किसी परेशानी के लोन मिल जाता है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*